Friday, July 25, 2014

Viswas quotes by Acharya Divya Sri

विश्वास हमारे जीवन का एक ऐसा धरातल है जिसके आधार पर हम कर्म करते है कर्म करने पूर्व यदि विश्वास का अभाव होगा तो कर्म की पूर्णता मे संदेह उपस्थित होगा हम एक समय में अपने हृदय में एक ही चीज़ को रख सकते हैं या तो संदेह को या विश्वास को मनुष्य विश्वास रखकर ही आगे आ सकता है हम उन पर भी विश्वास करते हैं जिन्हें हमने आँखों से नहीं देखा है रखना पड़ता है हमारे अंदर एक विश्वास को मापने का पैमाना वो हमे इसके लिए विश्वस्त करता है निरंतर अभ्यास एवं पूर्ण विश्वास अपने लक्ष्य की प्राप्ति करता है इतना विश्वास रखो की यदि ईश्वर एक खिड़की बंद करेगा तो कोई न कोई द्वार अवश्य खोलेगा विश्वासी व्यक्ति चमत्कार देखता है विश्वास करामातों की करामात है इसके के लिए रचनात्मक कार्य , दृढ़विश्वास एवं ईश्वरप्रेम इन तीनों की आवश्यकता होती है विश्वासी की सदैव जीत होती है